Breaking News खेलकूद ट्रेंडिंग स्लाइडर

दिनेश कार्तिक ने छोड़ी KKR की कप्तानी… अब यह खिलाड़ी संभालेंगे जिम्मेदारी…

दुबई. दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने कोलकाता नाइट राइडर्स की कप्तानी छोड़ दी है. अब इंग्लैंड के बल्लेबाज़ और वनडे कप्तान ऑयन मॉर्गन (Eoin Morgan) टीम की जिम्मेदारी संभालेंगे. कार्तिक ने कहा है कि वो अपनी बैटिंग पर फोकस करना चाहते हैं. उन्होंने कप्तानी छोड़ने का फैसला मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैच से पहले लिया है. आज रात आईपीएल में दूसरी बार मुंबई की भिड़ंत के केकेआर से होगी.

फैसले पर क्या कहा टीम मैनेजमेंट ने
कार्तिक के कप्तानी छोड़ने के फैसले के बारे में केकेआर के सीईओ वेंकी मैसूर ने जानकारी दी. उन्होंने कहा कि ऐसे बड़े फैसले लेने के लिए हिम्मत की जरूरत होती है. उन्होंने कहा, ‘हमलोग उनके इस फैसले से हैरान हैं. लेकिन हम उनके इस फैसले का सम्मान करते हैं. दिनेश कार्तिक ने हमेशा पहले टीम के बारे में सोचा है. ऐ्रसे फैसले लेने के लिए बहुत हिम्मत की जरुरत होती है.’



कार्तिक का फ्लॉप शो
आईपीएल के मौजूदा सीज़न में दिनेश कार्तिक का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है. आरसीबी के खिलाफ पिछले मैच में कार्तिक सिर्फ 1 रन बना कर आउट हो गए थे. अब तक उन्होंने 7 पारियों में सिर्फ 108 रन बनाए हैं. इसमें सिर्फ एक हाफ सेंचुरी शामिल है. शायद यही वजह है कि वो अब कप्तानी छोड़ कर अपनी बैटिंग पर फोकस करेंगे. उधर मौजूदा आईपीएल में केकेआर को अब तक 7 में से 4 मैचों में जीत मिली है. फिलहाल 8 अंकों के साथ ये टीम प्वाइंट्स टेबल में चौथे नंबर पर है.

ऑयन मॉर्गन बनेंगे कप्तान
ऑयन मॉर्गन इंग्लैंड टीम के मौजूदा वनडे कप्तान हैं. पिछले साल मॉर्गन की कप्तानी में ही इग्लैंड की टीम वर्ल्ड चैंपियन बनी थी. मॉर्गन को कोलकाता नाइट राइडर्स ने पिछले साल दिसंबर में 5.25 करोड़ में खरीदा था. इस साल अब तक आईपीएल की 7 पारियों में मॉर्गन ने 35 की औसत से 175 रन बनाए हैं. उन्होंने अब तक इस सीज़न में कोई हाफ सेंचुरी नहीं लगाई है. टीम मैनमेंट को उम्मीद है कि मॉर्गन के नेतृत्व में केकेआर का प्रदर्शन अच्छा रहेगा.

कार्तिक की कप्तानी में केकेआर
साल 2017 में गंभीर के कप्तानी से हटने के बाद दिनेश कार्तिक ने जिम्मेदारी संभाली थी. साल 2018 के सीज़न से पहले ककेआर ने उन्हें 7.4 करोड़ रुपये में खरीदा था. कार्तिक की कप्तानी में केकेआर की टीम साल 2018 में चौथे नंबर पर रही थी. जबकि पिछले साल उनकी कप्तानी में कोलकाता की टीम प्लेऑफ में नहीं पहुंच सकी थी.

विज्ञापन

loading…

हमसे जुड़ें

Do Subscribe

JOIN us on Facebook