छत्तीसगढ़ सियासत

आरक्षण मसले पर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय…अनुसूचित जाति,जनजाति, पिछड़े वर्गों के साथ न्याय नही अन्याय है…राजेन्द्र पप्पू बंजारे

file photo

रायपुर। छत्तीसगढ़़ सतनामी समाज रायपुर ग्रामीण के पूर्व जिलाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रतिनिधि राजेन्द्र पप्पू बंजारे ने कहा है कि अभी हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने निर्णय दिया है कि एससी,एसटी, ओबीसी को नौकरी और प्रमोशन में आरक्षण मौलिक अधिकार में नही आता है।



आरक्षण देना या नही देना है यह राज्य शासन के निर्णय पर छोढ़ दिया गया है। यह न्याय नहीं अन्याय का तकाजा है। सुप्रीम कोर्ट के इस निर्णय से बहुसंख्यक एससी+एसटी+ओबीसी समाज को घोर आघात पहुंचा है तथा जनता में निराशा एवं आक्रोश व्याप्त है।


WP-GROUP

राजेन्द्र बंजारे ने आगे बताया कि केंद्र की भाजपा सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हमारे वर्गो के पक्ष में ठीक से पैरवी नही करने के कारण ही हम लोगों को न्याय नही मिल पाया भाजपा आरएसएस पहले भी कई मौके पर खुले रूप से कह चुके है कि एससी, एसटी, ओबीसी वर्गो के आरक्षम को खत्म कर देना चाहिए। आगे उन्होंने बताया है कि 23 फरवरी को भारत बन्द का आह्वान किया गया है। इसी परिपेक्ष में सयुक्त मोर्चा के तत्वाधान में राजीव गांधी चौक रायपुर में एक दिवसीय धरना दिया जाएगा।

यह भी देखें : 

राष्ट्रीय कृषि मेला में विशेष आकर्षण का केन्द्र होगा कड़कनाथ…अन्य मुर्गों की तुलना में इसके मीट में होता है अधिक प्रोटीन…खाने से हो जाते है कई बीमारियां दूर…

Add Comment

Click here to post a comment